इस ब्लाग परिवार के हमारे सदस्य साथी....

मंगलवार, 29 मार्च 2011

जीवन एक क्रिकेट !



जीवन एक क्रिकेट है
सृष्टि के महान स्टेडियम में,
धरती की विराट पिच पर
समय बालिंग कर रहा है,
शरीर बल्लेबाज है,
ईश्वर के इस आयोजन में
अम्पायर धर्मराज है.
 
बीमारियां फिल्डिंग कर रही हैं
विकेटकीपर यमराज है,
प्राण हमारा विकेट है
जीवन एक क्रिकेट है.
इस डे-नाईट के मेच में
रचनात्मकता के जलवे दिखाने हैं,
और सांसों के सीमित ओवर में
सृजन के रन बनाने हैं.
 
गिल्लियां उडने का अर्थ
सांस का टूट जाना है,
एल बी डबल्यू याने हार्ट-अटेक,
 दुर्घटना में मरने वाला
रन आऊट कहलाता है,
और सीमा पर शहीद होने वाला
कैच आऊट कहा जाता है.
 
आत्म हत्या का अर्थ
हिट विकेट
 और हत्या स्टम्प आउट हो जाना
है.
कुछ आक्रामक खिलाडी
जल्द ही पैवेलियन लौट जाते हैं
लेकिन पारी ऐसी खेलते हैं
कि कीर्तिमान स्थापित कर जाते हैं
 सबका अपना-अपना रन रेट है
जीवन एक क्रिकेट है ।
चिन्तन सौजन्य : 
राष्ट्रसंत मुनि श्री तरुणसागरजी

6 टिप्पणियाँ:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

बहुत ही सुन्दर साम्य।

Manpreet Kaur ने कहा…

बहुत ही उम्दा शब्द है जी ! हवे अ गुड डे ! मेरे ब्लॉग पर जरुर आना !
Music Bol
Lyrics Mantra
Shayari Dil Se
Latest News About Tech

डॉ टी एस दराल ने कहा…

वाह , जीवन एक क्रिकेट है । बहुत सही उपमा दी है ।

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

Bahut hi Badhiya....

Dr (Miss) Sharad Singh ने कहा…

राष्ट्रसंत मुनि श्री तरुणसागरजी के कड़वे प्रवचन सुविख्यात हैं...प्रेरणास्पद होते हैं...उनके चिन्तनयुक्त यह कविता सटीक मर्मस्पर्शी है.....

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

Bahut khoob.
---------------
जीवन की हरियाली के पक्ष में!

इस्लाम धर्म में चमत्कार।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...