इस ब्लाग परिवार के हमारे सदस्य साथी....

रविवार, 30 अक्तूबर 2011

10 टिप्पणियाँ:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

कपड़े तो कभी भी पहन लेंगे, टिपिया तो लें..

Deepak Saini ने कहा…

नेट सबसे जरूरी है
रोटी और कपडे से भी

Sunil Kumar ने कहा…

ek jaruri kaam :):)

Ratan Singh Shekhawat ने कहा…

हा हा आने समय में रोटी कपड़ों से नेट ज्यादा जरुरी होगी वैसे भी सरकार सबके लिए रोटी की उपलब्धता तय करने के स्थान पर संचार क्रांति पर ज्यादा ध्यान दे रही है|

Gyan Darpan
RajputsParinay

ajit gupta ने कहा…

बचपन को बचपन ही रहने दो, क्‍यों बंधनों में बांधते हैं?

दर्शन कौर ने कहा…

अजी, अभी से लगा दिया काम पर ....

Pallavi ने कहा…

आज की जरूरत, सटीक चित्र मज़ा आया देखकर... :-)
समय मिले कभी तो आयेगा मेरी पोस्ट पर आपका स्वागत है जहाँ इस बार की पोस्ट बड़ी ज़रूर है किन्तु आपकी राय चाहिए।

कुश्वंश ने कहा…

shusheel ji ekbehtareen khoji photo maza aa gaya, nanga blogger

Mirchi Namak ने कहा…

sach mein bahut maja aata hai laptop chalane mein

रश्मि प्रभा... ने कहा…

:)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...