इस ब्लाग परिवार के हमारे सदस्य साथी....

मंगलवार, 17 जनवरी 2012

3 टिप्पणियाँ:

पी.सी.गोदियाल "परचेत" ने कहा…

अच्छा शेप दिया चित्रकार ने !

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

स्थूलों को भी भाव व्यक्त करने का अवसर दिया है, हम चेतन मूढ़ बने रहते हैं।

ajit gupta ने कहा…

बहुत खूबसूरत।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...