इस ब्लाग परिवार के हमारे सदस्य साथी....

गुरुवार, 31 मार्च 2011

ये पत्नियां !


         कल एक ब्लाग पर पत्नी की महिमा कुछ विशेष कम्प्यूटरीय विषेषणों से युक्त देखने के बाद पाठक वर्ग की जानकारी में कुछ और वृद्धि करने के उद्देश्य से-

 पत्नी
जो रहे पति से तनी-तनी,
खाली करवादे सारी मनी, 
कहलाती है वो पत्नी.


      एक पति ने पत्नी से पूछा : वाईफ का मतलब जानती हो- 'विदाउट इन्फर्मेशन फाईटिंग एवरीवेअर'.

      पत्नी - ये काम तो मैं जब चाहे कर सकती हूँ तभी तो  वाईफ को 'विद इटियट फार एवर' कहते हैं.

       एक पत्नी जो अपने पति की किसी बात पर उससे झगड रही थी, पति को न जाने क्या-क्या सुनाती जा रही थी और पति चुपचाप अपने अखबार में नजर गडाये सब सुन रहा था । पत्नी के सब्र की जब इन्तहा हो गई तो वो पति से गुस्से में बोल गई- कुछ जवाब क्यों नहीं देते ? जानवर कहीं के.
पति महोदय यहाँ भी चुप्पी ही साधे रहे.

        पति की चुप्पी के इस दौर में पत्नी आखिर अपने कमरे में चली गई । एकांत में पश्चाताप  भी हुआ कि मैंने क्रोध में अपने पति को जानवर कैसे बोल दिया । कुछ पश्चाताप की सी मुद्रा में वह अपने पति के पास आकर बोली मुझे माफ कर दो गुस्से में मैं आपको जानवर बोल गई । पति तब मुस्कराते हुए बोला- तो क्या हुआ वो तो मैं हूँ.
         पत्नी आश्चर्य से बोली ये कैसी बात कर रहे हैं आप ?
         तब पति अपनी पत्नी से बोला- देखो तुम मुझे जान कहती हो ना ? पत्नी ने स्वीकारा- हाँ.
        पति ने फिर कहा- और मैं तुम्हारा वर हूँ या नहीं
? पत्नी बोली- हाँ.
        तो फिर मैं जानवर हुआ या नहीं ? पति ने पत्नी की जिज्ञासा का समाधान करते हुए कहा ।

         
         जानकारों की राय में- सयानी स्त्री पुरुष से जो कुछ भी कहती है उसमें थोडी शकर मिलाकर कहती है और पुरुष जो कुछ कहता है उसे थोडे नमक के साथ ग्रहण करती है ।


12 टिप्पणियाँ:

Dr (Miss) Sharad Singh ने कहा…

पत्नी-महिमा बेहद शानदार है .

Patali-The-Village ने कहा…

बेहतरीन रचना| धन्यवाद|

Deepak Saini ने कहा…

वाह क्या बात है

Manpreet Kaur ने कहा…

वह बहुत खूब है जी ! मेरे ब्लॉग पर जरुर आना ! हवे अ गुड डे !
Music Bol
Lyrics Mantra
Shayari Dil Se
Latest News About Tech

Kunwar Kusumesh ने कहा…

mazedar lagi pati-patni ke beech guftgu.

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

मजेदार रहा आपका यह पत्नी पूराण !रात को घर जरा संभल कर जाइयो --एक पत्नी वहाँ भी ........

ajit gupta ने कहा…

सुशील जी एक बात पर ध्‍यान दें - हमेशा पति छोटा होता है और पत्‍नी बड़ी। इसलिए पति के साथ छोटी मात्रा और पत्‍नी के साथ बड़ी मात्रा होती है। आप भी सुधार लें।

veerubhai ने कहा…

achchhe chuteele vyangya vinod ke liye badhaai .
veerubhai .

सुशील बाकलीवाल ने कहा…

धन्यवाद दीदीश्री अजीतजी,
आपके सुझाव के मुताबिक मात्राओं में सुधार कर दिया है किन्तु बहुवचन को छोड भी दिया है ।

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

बताइये, इन्हे तो सार्वजनिक पढ़ भी नहीं सकते हैं।

सतीश सक्सेना ने कहा…

यह ठीक रहा ! हार्दिक शुभकामनायें !!

Mirchi Namak ने कहा…

भाई मजा आ गया जानवर को जानकर यकीनन आप का पति धर्म का अनुभव काफी अच्छा रहा है !

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...