इस ब्लाग परिवार के हमारे सदस्य साथी....

सोमवार, 9 जनवरी 2017

भारतीय मुद्रा तब से अब तक


           किस-किस की जानकारी में है ये - प्राचीन भारतीय मुद्रा प्रणाली

           फूटी कौड़ी (Phootie Cowrie) से कौड़ी,

           कौड़ी से दमड़ी (Damri),

           दमड़ी से धेला (Dhela),

           धेला से पाई (Pie),

           पाई से पैसा (Paisa),

           पैसा से आना (Aana),

           आना से रुपया (Rupya) बना ।

           256 दमड़ी = 192 पाई = 128 धेला = 64 पैसा  (old) = 16 आना = 1 रुपया.

            प्राचीन मुद्रा की इन्हीं इकाइयों ने हमारी बोल-चाल की भाषा को   कई कहावतें दी हैं, जो पहले की तरह अब भी प्रचलित हैं ।  देखिए :
          

           ●   एक 'फूटी कौड़ी' भी नहीं दूंगा ।
 
           ●   'धेले' का काम नहीं करती हमारी बहू !

 
           ●   चमड़ी जाये पर 'दमड़ी' न जाये ।

 
           ●   'पाई-पाई' का हिसाब रखना ।

 
           ●   सोलह 'आने' सच ! आदि । 


0 टिप्पणियाँ:

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...