इस ब्लाग परिवार के हमारे सदस्य साथी....

बुधवार, 22 फ़रवरी 2017

अधूरे हम...



             एक युवक बगीचे में खिन्न मुद्रा में बैठा था ।  एक बुजुर्ग ने उस परेशान युवक से पूछा -  क्या हुआ बेटा क्यूं इतने परेशान हो ?
 
            युवक ने गुस्से में अपनी पत्नी की गल्तियों के बारे में बताया ।
 
            बुजुर्ग ने कुछ मुस्कराते हुए युवक से पूछा-
 
            बेटा क्या तुम बता सकते हो - तुम्हारा धोबी कौन है ?
 
            युवक ने हैरानी से पूछा - क्या मतलब  ?
 
            बुजुर्ग ने कहा - तुम्हारे मैले कपड़े कौन धोता है ?
 
            युवक बोला - मेरी पत्नी...
 
            बुजुर्ग ने पूछा - तुम्हारा बावर्ची कौन है ?
 
            युवक - मेरी पत्नी...
 
            बुजुर्ग - तुम्हारे घर-परिवार और सामान का ध्यान कौन रखता है ?
 
            युवक - मेरी पत्नी...
 
            बुजुर्ग ने फिर पूछा - कोई मेहमान आए तो उनका ध्यान कौन रखता है ?
 
            युवक - मेरी पत्नी...
 
            बुजुर्ग -  परेशानी और गम में कौन साथ देता है ?
 
            युवक :-  मेरी पत्नी...
 
            बुजुर्ग -  अपने माता पिता का घर छोड़कर जिंदगी भर के लिए तुम्हारे साथ कौन आया  ?
 
            युवक -  मेरी पत्नी...
 
            बुजुर्ग -  बीमारी में तुम्हारा ध्यान और सेवा कौन करता है ?
 
            युवक :-  मेरी पत्नी...
 
            बुजुर्ग बोले :- एक बात और बताओ तुम्हारी पत्नी इतना काम और सबका ध्यान रखती है । क्या कभी उसने तुमसे इस बात के पैसे लिए ?
 
            युवक -  कभी नहीं...
 
            इस पर बुजुर्ग बोले कि -  पत्नी की एक कमी तुम्हें नजर आ गई, मगर उसकी इतनी सारी खूबियाँ तुम्हें नजर नहीं आईं ?

            क्या तुम्हें नहीं लगता कि तुम ही नहीं दुनिया का कोई भी इन्सान पत्नी के बगैर अधूरा ही रहता है ? इसलिये  बेटे... पत्नी जो ईश्वर का दिया एक स्पेशल उपहार है इसलिए उसकी उपयोगिता जानो और उसकी छोटी-मोटी कमी को अनदेखा करते हुए सदैव उसकी देखभाल व परवाह करो ।

            आखिर पति के लिए पत्नी क्यों जरूरी है ?
   
            जब तुम दुःखी हो, तो वह तुम्हें कभी अकेला नहीं छोड़ेगी ।

            हर वक्त,  हर दिन,  तुम्हें तुम्हारे अन्दर की बुरी आदतें छोड़ने को कहेगी ।


            हर छोटी-छोटी बात पर तुमसे झगड़ा करेगी, किंतु ज्यादा समय तक गुस्सा भी नहीं रह पाएगी ।


            छोटी-छोटी बचत के द्वारा तुम्हें आर्थिक मजबूती देगी ।


            कुछ भी अच्छा न हो, फिर भी, तुम्हें यही कहेगी; चिन्ता मत करो, सब ठीक हो जाएगा।


            तुम्हें समय का पाबन्द बनाएगी।

              यह जानने के लिए कि तुम क्या कर रहे हो,  दिन में 10 बार फोन करके  हाल पूछेगी । कभी - कभी तुम्हें खीझ भी आएगी, पर फिर भी सच यह है कि तुम कुछ कर नहीं पाओगे ।

             इसलिए हमेशा अपनी पत्नी की उपयोगिता जानो और स्नेह व प्यार से उसकी देखभाल करो । 

   

1 टिप्पणियाँ:

Digamber Naswa ने कहा…

सहमत आपकी बात से ... पत्नी ही घर संसार है ...

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...