इस ब्लाग परिवार के हमारे सदस्य साथी....

शुक्रवार, 22 अप्रैल 2011

होनहार...

       अति व्यस्त व्यापारी पिता ने अपने युवा हो रहे पुत्र को हमउम्र दोस्तों में कुछ ज्यादा ही रुचि लेते देखा तो यह जानने की कोशिश में कि अपने दोस्तों के साथ इस उम्र में यह लडकियों में रुचि ले रहा है या ड्रिंक जैसे व्यसन में उलझ रहा है या फिर व्यापार में पैसे कमाने की ओर भी इनका रुझान चल रहा है, उसके घर आने के समय एकान्त कमरे में मेज पर सुन्दर लडकी की फोटोफ्रेम के साथ व्हिस्की की बाटल और नोटों की एक गड्डी रख दी और छुपकर उसकी गतिविधि को देखने लगा ।





      पुत्र ने कमरे में घुसते ही Wou की मुद्रा में सिटी बजाते हुए लडकी के फोटो को उठाकर उसका चुम्बन लिया फिर बाटल खोलकर एक बडा सा घूंट व्हिस्की का मुंह में भरा और नोटों की गड्डी को जेब के हवाले करते हुए कमरे से बाहर निकल गया ।


16 टिप्पणियाँ:

योगेन्द्र पाल ने कहा…

हा हा, सही रस्ते जा रहा है बेटा,

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

पूर्ण चरम।

Er. सत्यम शिवम ने कहा…

आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (23.04.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
चर्चाकार:-Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

Dr (Miss) Sharad Singh ने कहा…

ऐसे होनहारों के माता-पिता पर क्या गुज़रती होगी...?
बहुत संवेदनशील चिंतनयुक्त कथा ...

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

कम शब्दों में सुंदर चिंतन..... बहुत बढ़िया

Udan Tashtari ने कहा…

हम्म्म!!!!!!!!!!!!!!!!!!!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

आधुनिकता का सही चित्रण!

ajit gupta ने कहा…

जैसा प्रश्‍नपत्र होता है उसके उत्तर भी वैसे ही देने पड़ते हैं।

संजय भास्कर ने कहा…

बहुत संवेदनशील ....सही चित्रण!

उपेन्द्र ' उपेन ' ने कहा…

nai peedhi hai..........bhagwan bachaye.

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

aaj ki yuva pidi

वीना ने कहा…

यह नई पीढ़ी की हरकत है क्या किया जा सकता है ...इसीलिए पहले ही उन पर ध्यान रखना पडेगा...अन्यथा देर ही हो जाएगी..

अनामिका की सदायें ...... ने कहा…

yava putr ke interest par depend karta hai ki vo teeno ko chunta hai ya unme se koi ek....

blogtaknik ने कहा…

युवावर्ग को सबकुछ चाहिय बस काम मत बताइए.

blogtaknik ने कहा…

आपकी इस पोस्ट ने मुजे आपको अनुसरण करने को मजबूर कर दिया.

निवेदिता ने कहा…

intelligent move.......

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...